मेरी एक असिस्टेंट


Please Share this Blog:

hindi sex story: हाय ऑल रीडर्स मैं राहुल हरियाणा से हूँ. बात उन दिनो की है जब मैं एक एम.एन.सी कम्पनी मे जॉब करता था वहाँ पर मेरी एक असिस्टेंट थी उसका नाम अनामिका (नाम बदला हुआ) था वो बहुत ही सेक्सी थी आपको बता दूँ वो सिर्फ़ 22 साल की थी और उसका फिगर तो पूछो ही मत यार वो मेरे साथ वाली सीट पर बैठती थी आपको बता दूँ मैं उस प्राइवेट कंपनी मे भी बहुत ऐश से जॉब कर रहा था जेसे में ही वहा का बॉस हूँ और अनामिका को मेरे अंडर ही काम करना रहता था कुछ महीने बीत गये और हम लोगों ने नम्बर एक्सचेंज कर लिये.

मैं उसे मैसेज भेजा करता था और जब हमने फोन पर बात करना स्टार्ट किया तो मैं ऐसे ही मज़े मज़े मे उससे पूछ लेता था की तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड है क्या पहले तो उसने नही बताया लेकिन जब हम लोग फ्रेंकली हो गये तो उसने बताया की उसका ब्रेकअप हो चुका है तब मेरे मन मे उसे चोदने का ख्याल आने लगा एक दिन मैने उसे फोन किया और बोला की मैं कल ऑफीस नही आ रहा हूँ उसने वजह पूछी तो मैने बताया की कल मेरा बर्थ-डे है(मैने उसे झूठ बोला था) तो वो बोली की बोलो क्या गिफ्ट चाहिये तो मैने बोला की मिलते हैं.

फिर साथ मे डिसाइड करेंगे तो वो मान गयी और बोली की कल करोल बाग चलते हैं मैने मना कर दिया और कहा की मेरे घर पर ही मिलते हैं(आपको बता दूँ मैं वहाँ अकेला ही रहता हूँ मेरी फेमिली नेटिव प्लेस में रहती है) उसने मना कर दिया लेकिन मेरे ज़ोर देने पर वो मान गयी और अगले दिन मेरे घर पर आई मैं तब तक सो ही रहा था उसने आकर मुझे जगाया और चाय बना के पिलाई और बोली की चलो कहीं शॉपिंग करने चलते हैं सर. तो मैने मना कर दिया और बोला की घर पर ही ठीक है तो वो ज़िद करने लगी तो मैने गाड़ी निकाली और हम दोनो एक माल मे गये और वहाँ हमने कुछ शॉपिंग की वहीं पर मैने नोट किया की वो मुझसे कुछ ज़्यादा ही फ्रेंकली हो रही थी तो जब हम शूज देखने लगे तो वो मेरे बिल्कुल साथ चिपक के खड़ी थी वापस आते टाइम भी वो कुछ अलग ही मूड मे थी हम घर पहुँचे.

कुछ देर बाद वो मेरे साथ ही बेड पर बैठ के टी.वी देखने लगी और मैं सोने का नाटक करने लगा थोड़ी देर मे वो कंफर्टबल हो गयी और बेड के दूसरे कोने पर लेट गयी मैने धीरे से सोने का नाटक करते हुये ही अपना हाथ उसके कंधे पर रखा तो वो चौंक गयी और मेरा हाथ हटा दिया और ड्रॉइग रूम मे चली गयी मैं डर गया की कहीं वो ऑफीस मे कुछ बोल ना दे थोड़ी देर बाद उसने मुझे जगाया और मुझे चाय बना के दी फिर हम काफ़ी देर तक बातें करते रहे मैने उसे बोला की चलो टी.वी देखते हैं और बेडरूम मे आ गये थोड़ी देर बाद मैने हिम्मत करके फिर से उसके हाथ पर हाथ रखा तो उसने कोई रेस्पॉन्स नही दिया मैने हिम्मत करके जैसे ही उसके बूब्स पर हाथ रखा तो वो झट से आकर मुझसे चिपक गयी और बोली बस भी करो अब कंट्रोल नही होता बुझा दो मेरी प्यास फिर मैं ज़ोर ज़ोर से उसके बूब्स दबाने लगा.

कुछ देर हम ऐसे ही इन्जॉय करते रहे कुछ देर बाद मैने उसके कपड़े उतारे ओह माई गॉड क्या बूब्स थे उसके जो देखे तो लगे की मदरडेरी का गोदाम फुल ऑफ स्टॉक और उसके उपर आकर उसके बूब्स चूसने लगा उसके बूब्स इतने मस्त हो चुके थे और निपल भी हार्ड हो चुके थे मैने धीरे धीरे उसकी चूत में उंगली डाली तो पाया की उसकी चूत पूरी तरह से गीली हो चुकी थी और आरती भी जोरों से सिसकारियाँ ले रही थी और गांड उठा उठा के चूत मे उंगली ले रही थी मुझसे कंट्रोल नही हुआ और मैंने अपने लंड का सुपडा उसके मुँह पर रख के रगड़ना चालू कर दिया वो अब बिल्कुल शांत थी और सिसकारियाँ ले रही थी फिर मैने उसे 69 पोज़िशन मे आने को बोला और हम दोनो एक दूसरे को सक करने लगे और साथ ही साथ मैं अपने हाथ से उसकी चूत का दाना मसलने लगा.

कभी उसकी चूत को ज़ोर से मुँह मे सक करता बीच बीच मे जब मैं ज़्यादा एग्जाइटेड हो जाता तो आरती के मुँह मे ही झटके मार मार के लंड पेलने लग जाता करीब 10-12 मिनिट के बाद वो अपनी गांड को जोर से हिलाने लगी तो मैं समझ गया की वो अब झडने वाली है तो मैने उसकी चूत को ज़ोर ज़ोर से सक करना चालू कर दिया और जीभ उसकी चूत मे डालने लगा वो तो जैसे पागल ही हो गयी थी और ज़ोर ज़ोर से चिल्लाने लगी थी चूसो ना राहुल जोर से चूसो इस चूत को आआआ ओह्ह्ह्ह फुक मी हार्ड राहुल प्लीज़ डाल दो मेरी चूत मे लंड आअहह उहह फुक्कककक मी जान फाड़ दो इस चूत को ऊहह आहह मैं भी उसे तड़पाता रहा और वो झड़ गयी.

मैं उसकी चूत का सारा रस पी गया क्या बताऊं दोस्तों कितना मज़ा था चूत के पानी मे फिर उसने 3-4 मिनिट के बाद अचानक मेरे लंड पर जीभ फेरनी चालू की ओह्ह्ह्ह माई गॉड कितना मज़ा आ रहा था उस टाइम ऐसे ही वो मेरे लंड को चूसती रही और बीच बीच मे उससे खेलने लग जाती कुछ देर ऐसे ही लंड चूसने के बाद मेरे माइंड मे ख्याल आया की क्यों ना इसकी चूचियो को चोदा जाये तो मैं उसके उपर आ गया और उसके बूब्स के बीच मे लंड रख दिया उसने अपने बूब्स को दोनों हाथों से दबा लिया और मैं उसके बूब्स मे लंड आगे पीछे करने लगा फ्रेंड्स उसके मोटे बूब्स मे लंड फंसा के चोदने मे इतना मज़ा आ रहा था की में आपको किन शब्दों में बताऊँ.

अब 10-15 मिनिट के बाद मैं भी अपना पानी छोड़ने वाला था तो मैने उसे बोला की अपना मुँह खोल कर रखो और मेरे पानी को पी लेना तो वो मना करने लगी और बोली की वो गंदा होता है इतनी ही देर मे मैं झड़ गया और मैने ज़बरदस्ती लंड उसके मुँह मे डाल दिया और बोला की अगर मेरे लंड का पानी नही पिया तो तेरी चूत नही मारूंगा वो भी गर्म थी और चुदने को बेकरार थी तो वो मेरे लंड का सारा पानी पी गयी कुछ देर हम ऐसे ही मज़े लेते रहे और उसके बाद हम दोनों बाथरूम मे जाकर शॉवर लेने लगे तो मेरा दिल फिर से उसकी चूत को चाटने के लिए हुआ वो खड़ी थी और मैं बैठ के उसकी चूत चाट रहा था मैने चाटते चाटते अपनी 3 उंगलिया उसकी चूत मे डाल दी और आगे पीछे करने लगा वो फिर से गर्म होने लगी थी.

थोड़ी देर के बाद उसने धीरे से मुझे बोला की लंड पर कन्डोम लगाओ अब कंट्रोल नही होगा तो मैने बोला खुद ही लगा लो और हम बेडरूम मे आ गये फिर मैने उसे रिक्वेस्ट किया की कन्डोम लगाने से पहले मैं अपना लंड उसकी चूत पर रगड़ना चाहता हूँ तो वो बोली की कन्डोम लगा के रग़ड लेना मैने मना कर दिया क्योकी कन्डोम लगा के लंड का सुपडा चूत पर रगड़ने मे मज़ा नही आता तो वो मान गयी और मे धीरे धीरे अपने लंड का सुपडा उसकी चूत पर रगड़ने लगा उसकी साँसें फिर से तेज होने लगी उस टाइम मैं मिशनरी पोज़िशन मे उसकी चूत पर लंड रग़ड रहा था वो अपनी मोटी गदराई हुई गांड हिला हिला के मेरा साथ देने लगी और अपने दोनो पैरो से मेरी कमर को जकड़ लिया और बोली अब कंट्रोल करना मुश्किल है राहुल प्लीज़ मुझे चोदो फाड़ दो इस रंडी की चूत को भर दो पूरा अपने लंड का अमृत इसमे तो मैने भी सोचा की अब इसे चोद देना चाहिये मैने उसे अपने कन्धो से पकड़ा दिया.

उसने बड़े ही प्यार से मेरे लंड पर कन्डोम लगाया और मेरा फंनफनाता हुआ लंड उसकी चूत मे जाने को तड़प रहा था मेंने सुपडा उसकी चूत पर रखा और ज़ोर से लंड को पेल दिया फूकक्च सी आवाज आई और मेरा पूरा लंड उसकी चूत मे समा गया उसके मुँह से आआआ ऊऊऊहह की आवाज़ें आने लगी और वो अपनी मोटी गड्राई हुई गांड हिला हिला के चुदवाने लगी थोड़ी देर बाद मैने भी स्पीड बड़ा दी और ज़ोर ज़ोर से शॉट लगाने लगा पूरा वातावरण फुक्कककच फुक्कककचह ताआप ताआअप की आवाज़ों से भर गया मैने उसे करीब 10 मिनिट तक ऐसे ही चोदा फिर मैं उसे बोला की अब अपनी स्टाइल मे लंड को ले तो वो मेरे उपर आ गयी और ज़ोर ज़ोर से गांड हिलाते हुये उपर नीचे होने लगी.

कुछ देर ऐसे चुदाई के बाद वो बोली अब डॉगी स्टाइल मे चोदो ना तो मैने उसे उल्टा करके उसकी कमर पकड़ के चूत पर निशाना लगाते हुये एक जोरदार शॉट लगाया ऊऊओ माई गॉडनेस दोस्तों पूछो मत उसकी भारी भारी गांड पर जब मेरे बॉल्स टच हो रहे थे तो पूरा रूम फुक्ककच फुहह की आवाज़ से भरा हुआ था और उसके बूब्स उपर नीचे नाच रहे थे क्या बताऊँ दोस्तों कितना मज़ा आ रहा था ऐसे ही धमाकेदार शॉट लगाते हुये हम दोनो 15-16 मिनिट मे झड़ गये फिर हम दोनों ने साथ मैं लंच लिया उस दिन मैने उसे 5 बार चोदा और जब उसे घर छोड़ने गया तो उसे चलने मे भी दिक्कत हो रही थी.

Please Share this Blog: