आंटी की चिकनी चूत-3


Please Share this Blog:

hindi sex story: मैने एक ज़ोरदार धक्का मारा तो पूरा लंड चूत में समा गया और मुझे स्वर्ग का आनन्द आने लगा मैं अपनी कमर को आगे पीछे करने लगा और झुक कर आंटी की चूची को चूसने लगा उनके काले निपल बहुत सख्त हो चुके थे और मैने उनके उपर अपनी ज़बान फेरनी शुरू कर दी अपने दोस्त की मम्मी को चोदने का पहला अवसर था मेरा और मुझे और भी उतेज्ना हो रही थी क्योकी सोनिया आंटी मेरी मम्मी की पक्की सहेली थी आंटी अपने चुतड उठा रही थी और उन पर चुदाई की मस्ती चढ़ चुकी थी आंटी तुम क़िसी जवान लड़की से कम नहीं हो ऐसी मस्त औरत मैने अब तक नहीं चोदी बचपन से आपकी गांड देख कर मेरा लंड खड़ा हो जाता था लेकिन तुम मेरे से चुदवाओंगी एक दिन बस मेरा सपना ही था.

सच आंटी तुम तो एक पटाखा हो भोसड़ी के लल्लू साले बचपन से ही ऐसे हो तुम तब तो अपनी माँ की चूची भी देखते होगे चुप चुपके साले मादरचोद पुष्पा की गांड कम सेक्सी है क्या? मैं चुदाई की मस्ती मैं था और ज़ोर से धक्के मारते हुये बोला मम्मी की गांड तो पापा के लिये है लेकिन पापा को मम्मी की चुदाई करते देखा है कई बार आज आपको चोद कर सपना पूरा हो गया मेरा बहनचोद अगर मम्मी की गांड पापा के लिये है तो आंटी की गांड भी तो अंकल के लिये थी बेटा चूत पर क़िसी की मोहर नहीं लगी होती जिसका मौका लगे चोद लेता है अब देख लो मैं आज अपने बेटे समान लल्लू के लंड का मज़ा ले रही हूँ क्या पता कल सुनील तेरी माँ को चोद ले पुष्पा और मैं दोनो लंड के लिये तड़पति रहती हैं.

तेरे पापा और अंकल साले वहाँ दुबई में मूठ मार कर गुज़ारा कर रहे होंगे ऊऊऊओ लल्लू मादरचोद तेरा लंड अब मेरी बच्चेदानी पर ठोकर मार रहा है ज़ोर से चोद पेल मुझे आअहह मार मेरी चूत कब से प्यासी है बुझा दे इसकी प्यास बेटा कमरे में चुदाई की सिसकारियाँ गूँज रही थी फ़चा फ़च की आवाज़ आ रही थी और अब मेरा लंड खलास होने के नज़दीक आ चुका था मैने धक्को की स्पीड तेज़ कर दी और तूफ़ानी गति से आंटी को चोदने लगा हह्ह्ह्ह आंटी मैं झड़ने वाला हूँ आंटी बहुत मज़ा दिया है आपने मुझे ऊऊऊ आंटी मैं गया आआआआ आंटी की चिकनी चूत मेरा लंड खा रही थी उनकी चूत ने मेरा लंड कसा हुआ था एक कुत्तिया की तरह आंटी हाँफ रही थी और मुझे आंटी बहुत सेक्सी लग रही थी उसकी गांड की स्पीड से ज़ाहिर था की वो भी झड़ने को थी आआआ ऊऊऊऊ म्‍म्म्मममह आरररगज्गघह चोद बेटा ज़ोर से मर गयी है मर गयी फाड़ दे मेरी चूत मादरचोद तेरी रंडी आंटी चुद गयी अपने बेटे के लंड से आआआआ चोद बेटा मेरा लंड अपना फव्वारा आंटी की चूत में छोड़ने लगा और आंटी की चूत का रस मेरे लंड पर गिरने लगा.

मैने आंटी के चुतड कस के जकड़े हुये थे और में पागलों की तरह पेल रहा था ऊऊओ बेटा मैं गयी तुम चूत में मत करना मादरचोद मुझे माँ नही बना देना बहनचोद मुझे प्रेग्नेंट मत बना देना बाहर निकाल लो बेटा लल्लू मैने झट से लंड बाहर निकाल लिया और आंटी ने उसको अपने हाथों में ले लिया और मूठ मारने लगी मैने आंटी को बालों से पकड़ कर उनका मुँह उपर किया और लंड को उनके होंठों से सटा कर बोला आंटी अगर चूत नहीं तो इसको चाट कर खलास कर दो मैने आपकी चूत को लंड से ठंडा किया है तुम भी इसको चूस कर ठंडा करो ना आंटी की आँखें बंद थी लेकिन उसने मेरा सूपाड़ा चाटना शुरू कर दिया.

मैने उनके बाल और ज़ोर से खींचे तो उनका मुँह अपने आप खुल गया और मैने अपना लंड उनके मुँह में पेल दिया आंटी कस के चूसो मेरा लंड मुझे महसूस हो की मैं आपकी चूत चोद रहा हूँ ज़ोर से चूसो आंटी उन्होने लंड अपने गले तक उतार दिया और मैं मुँह को चोदने लगा 8-10 धक्को के बाद मेरे रस की धारा निकल पड़ी आंटी ने लंड मुँह से निकाल लिया और मेरा रस आंटी की चूची पर और पेट पर बिखर गया तो दोस्तों केसी लगी में स्टोरी अगर अच्छी लगे तो इसे अपने दोस्तों को जरुर शेयर करें.

धन्यवाद …

Please Share this Blog: