मस्त देसी भाभी के साथ मस्त सेक्स

Spread the love

[ A+ ] /[ A- ]

Font Size » Large | Small


bhabhi sex stories हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम नैतिक है, में जामनगर का रहने वाला हूँ। में बी.कॉम कर रहा हूँ। अब में आपका समय ख़राब ना करते हुए सीधा अपनी स्टोरी पर आता हूँ। इस स्टोरी की शुरुआत कुछ 4 महीने पहले हुई थी, जब मेरे पड़ोस में एक नयी फेमिली रहने आई थी। उस फेमिली में पति-पत्नी थे और वो भाभी दिखने में कोई हिरोइन से कम नहीं थी, वो एकदम स्लिम फिगर की थी। उनके बारे में और बताऊँ तो मुझे उनका फिगर 30-28-30 लग रहा था, उनका रंग बहुत ही गोरा था।

अब मेरा तो लंड उनको देखते ही खड़ा हो जाता था और मैंने उनके नाम की कई बार मूठ भी मारी थी और सोच रहा था कि अगर इस भाभी को चोदने का मौका मिले तो मज़ा आ जाएगा। फिर मैंने उनको चोदने के प्लान को आगे बढ़ाने के लिए विमल भाई (भाभी के पति) से जान पहचान बढ़ानी शुरू कर दी और उनसे रोज बातें करने लगा और उनके बारे में जानकारी निकालने लगा। अब उनसे बातचीत करके मुझे पता चला कि उनकी शादी 6 महीने पहले ही हुई है और वो एक कंपनी में सेल्समैन है और उनकी जॉब की वजह से उनको कई बार आउट ऑफ स्टेशन जाना पड़ता था। अब उनकी और हमारी फेमिली के बीच में अच्छी रिलेशनशिप हो गई थी। अब विमल भाई जब भी आउट ऑफ स्टेशन जाते, तो वो हमें बताकर जाते और कहते कि अगर तोरल (हॉट भाभी का नाम) को कुछ भी मदद चाहिए हो, तो उनको मदद करे।

अब जब भी तोरल भाभी अपने घर पर अकेली होती तो वो कई बार हमारे घर पर आती और मेरी माँ के साथ बातें करके टाईम पास कर लेती, तो इसी वजह से में भी उनके साथ कुछ बात कर लेता था। फिर कुछ ही दिनों में मेरी उनके साथ अच्छी दोस्ती हो गई। फिर एक दिन उन्होंने मुझसे मेरा नंबर माँगा, तो मैंने उन्हें अपना नंबर दे दिया और फिर हमारी वाट्सअप पर कई बार बात होने लगी। में आपको एक बात तो बताना ही भूल ही गया कि भाभी मॉडर्न विचारो वाली थी तो वो रोजाना ही वेस्टर्न कपड़े ही पहनती थी। अब एक महीने पहले की बात है विमल भाई को कोई काम की वजह से एक हफ्ते के लिए आउट ऑफ स्टेशन जाना पड़ा। अब मुझे लग रहा थी कि अब मेरी ड्रीम पूरी करने का यही सही वक़्त है तो मैंने तोरल भाभी को बोला कि अगर आपको कोई काम हो तो मुझे बताना, तो उन्होंने कहा कि ओके।

loading...

फिर एक दिन भाभी का मुझे कॉल आया, तो उन्होंने कहा कि में फ्री हूँ तो उनके घर आ जाऊं। तो में तुरंत ही उनके घर पर चला गया, फिर मैंने जैसे ही उनके घर की बेल बजाई, तो उन्होंने अपना डोर खोला। तो में उनको देखता ही रह गया, उन्होंने नाइटी पहनी हुई थी। फिर उन्होंने कहा कि क्या देख रहे हो? तो मैंने कहा कि कुछ नहीं भाभी। तो उन्होंने ओके कहा और मुझे अंदर आने को बोला, तो में अंदर चला गया और सोफे पर बैठ गया और पूछा कि कुछ काम था भाभी। तो उन्होंने कहा कि नहीं बस ऐसे ही बोर हो रही थी इसलिए, तो मैंने ओके कह दिया। फिर वो किचन से मेरे लिए पानी लाई और मुझे पीने के लिए दिया। फिर बाद में वो भी सोफे पर बैठ गई और टी.वी चालू कर दी और फिर हम मूवी देखने लगे। अब कोई मूवी अच्छी नहीं आ रही थी, तो तोरल भाभी ने टी.वी बंद कर दी और फिर हम बातें करने लगे।

फिर कुछ कॉलेज की बातें पूछने के बाद उन्होंने मुझसे पूछा कि कॉलेज में कितनी गर्लफ्रेंड बना रखी है? तो मैंने कहा कि कोई नहीं है। तो उन्होंने कहा कि क्यों? तो मैंने कहा कि कोई आपके जैसी मिली ही नहीं। तो तोरल भाभी ने कहा कि क्यों मुझमें ऐसा क्या है? तो फिर मैंने कहा कि आप इतनी सुंदर हो। फिर उन्होंने कहा कि तुझे मेरी जैसी मिलती नहीं है और में जिसे मिली हूँ उनको मेरी कदर नहीं है। तो मैंने कहा कि क्या हुआ भाभी? तो उन्होंने कहा कि अगर में तेरी पत्नी होती, तो तू मेरे लिए क्या करता? तो मैंने कहा कि में तो आपको कभी अकेला छोड़ता ही नहीं और पूरा टाईम आपके साथ स्पेंड करता। फिर बाद में मैंने कहा कि आप ऐसा क्यों पूछ रही हो भाभी? तो उन्होंने कहा कि तेरे भैया को देखना कभी मेरे लिए उनके पास टाईम ही नहीं है। अब मुझे कोचिंग जाना था तो में वहाँ से चला गया।

फिर बाद में जब में रात को अपने घर पर टी.वी देख रहा था। तो मुझे भाभी का कॉल आया और कहा कि मुझे तेरी मदद चाहिए, तू तुरंत मेरे घर पर आजा। तो में बहाना करके तुरंत उनके घर पर चला गया, फिर मैंने उसके डोर की बेल बजाई, तो उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। फिर मैंने उनको कॉल किया, तो उन्होंने कहा कि डोर खुला ही है अंदर आजा। तो में अंदर चला गया, लेकिन मुझे कोई दिखाई नहीं दे रहा था तो मैंने भाभी को आवाज़ दी। तो भाभी ने कहा कि बेडरूम में आजा, फिर जैसे ही मैंने बेडरूम का डोर खोला तो मैंने देखा कि कोई बेड पर साड़ी पहने हुए बैठा है और पूरे रूम में मोमबत्ती जलाई हुई थी और बेड पर फूल फैले हुए थे। फिर मैंने कहा कि क्या काम था भाभी? तो उन्होंने कहा कि मुझे तेरी ज़रूरत है मेरी प्यास बुझा दे, तेरे भैया की कमी तू पूरी कर दे। अब में तो बहुत खुश हो गया और फिर मैंने तुरंत मेरे पापा को कॉल किया और कहा कि आज रात में मेरे दोस्त के घर पर ही रहूँगा, तो उन्होंने कहा कि ओके।

loading...

फिर मैंने तुरंत बाहर जाकर घर का डोर लॉक किया और फ्रिज में से चॉकलेट का पेस्ट निकाला और बेडरूम में चला गया। फिर मैंने बेडरूम का डोर लॉक किया और सीधा भाभी के पास चला गया। अब भाभी क्या कमाल की लग रही थी? मैंने पहले कभी उनको साड़ी में नहीं देखा था। अब वो मुझे कोई अप्सरा से कम नहीं लग रही थी। फिर में झट से उनके ऊपर कूद पड़ा और उन्हें किस करने लगा, तो उन्होंने कहा कि आराम से आज पूरी रात तू जो माँगेंगा वो मिलेगा। फिर मैंने उन्हें किस करना चालू रखा, अब वो भी मेरा साथ दे रही थी। अब मुझसे रहा नहीं जा रहा था तो मैंने उनकी साड़ी निकाल दी और अब वो सिर्फ़ ब्लाउज और पेटीकोट में ही थी। अब में उनको स्मूच करने लगा और ऐसे ही 15 मिनट तक स्मूच करता रहा। अब वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी और मौन कर रही थी। फिर मैंने उनका ब्लाउज और पेटीकोट भी निकाल दिया। अब मेरे सामने एक अप्सरा लेटी हुई थी जिसके गोरे शरीर पर सिर्फ़ सफ़ेद ब्रा और काली पेंटी थी।

अब मेरा लंड तो जैसे बाहर आने का ही इंतज़ार कर रहा था, तो मैंने भी अपनी टी-शर्ट और जीन्स निकाल दी। अब में भी सिर्फ़ बॉक्सर्स में ही था तो मैंने फिर से उनको स्मूच और किस करना चालू कर दिया और अपने एक हाथ से उनके बूब्स को दबाने लगा। अब तोरल भाभी मौन कर रही थी, फिर मैंने अपने मुँह से उनके बूब्स पर से उनकी ब्रा को भी निकाल दिया और उनके बूब्स को चूसने लगा। फिर मैंने उनके बूब्स पर चॉकलेट का पेस्ट डाला और उसे चाटने लगा। अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और में ऐसे ही करीब 10 मिनट तक करता रहा। फिर मैंने उनकी पेंटी भी निकाल दी, अब तोरल भाभी मेरे सामने पूरी नंगी थी और अब मेरा लंड बहुत बड़ा हो चुका था। फिर मैंने उनको मेरा लंड चूसने को कहा, तो पहले तो उन्होंने मना किया, लेकिन फिर मैंने अपने लंड पर चॉकलेट का पेस्ट लगाया और बोला कि अब तो चूसो। तो उन्होंने कहा कि ठीक है और फिर वो मेरा लंड अपने मुँह में डालने लगी और अंदर बाहर करने लगी।

दोस्तों कसम से अब में तो जैसे सातवें आसमान पर था। अब वो मेरा लंड कोई लॉलीपोप हो जैसे चूस रही थी। फिर कुछ ही मिनट के बाद में झड़ गया और मैंने उनके मुँह में ही अपना पूरा माल खाली कर दिया। फिर वो मुझसे कहने लगी कि अब मुझे और मत तड़पाओं मुझे चोद दो, लेकिन अब तो असली मज़ा शुरू हुआ था। अब मैंने फिर से उनको बेड पर लेटा दिया और 69 पोज़िशन में आ गया और उनकी चूत को चाटने लगा। अब वो मौन कर रही थी, फिर मैंने कुछ देर तक उनकी चूत को चाटने के बाद उनकी चूत पर और उनकी बॉडी पर चॉकलेट का पेस्ट डाल दिया और उसे चाटने लगा। अब करीब 10 मिनट तक ऐसा ही चलता रहा। फिर मुझसे भी कंट्रोल नहीं हुआ तो मैंने उनको ठीक पोज़िशन में किया और उनकी दोनों टाँगे पूरी फैला दी और उनकी चूत पर मेरा लंड रखा और रगड़ने लगा। अब पूरे रूम में सिर्फ़ उनकी मौन की आवाज़े आ रही थी।

फिर मैंने एक ज़ोर का धक्का मारा और मेरा आधा लंड उनकी चूत में चला गया। अब में धीरे-धीरे अपनी स्पीड बढ़ाने लगा था। अब उनको भी बहुत मज़ा आ रहा था इसलिए वो भी ज़ोर-ज़ोर से चिल्ला रही थी फुक मी, फुक मी हार्ड और जिससे मुझे भी जोश आ रहा था और इसी तरफ में 15 मिनट तक उनको चोदता रहा। अब में झड़ने वाला था तो मैंने उनको पूछा कि कहाँ डालूं, तो उन्होंने कहा कि अंदर ही डाल दे मेरे पास आई-पिल है। तो मैंने और 5-6 झटके मारे और मेरा सारा माल उनकी चूत के अंदर ही खाली कर दिया। फिर मैंने अपना लंड उनकी चूत में से बाहर निकाला और उनके ऊपर ही 5 मिनट तक लेटा रहा और उनके बूब्स को चूसता रहा। फिर मैंने भाभी को कहा कि एक और राउंड हो जाए। तो उन्होंने कहा कि आज तुझे जितनी बार चोदना है चोद ले और फिर वो बैठकर मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी।

अब कुछ देर में मेरा लंड फिर से पूरा टाईट हो गया था और इस बार मैंने उनको उल्टा लेटाया और पीछे से उनकी चूत में अपना लंड डालकर चोदने लगा। फिर इसी पोज़िशन में कुछ देर तक चोदने के बाद मैंने उनको घोड़ी बनाकर चोदा और फिर कई और पोज़िशन में उनको 20 मिनट तक चोदा। फिर मैंने भाभी को बोला कि मुझे आपकी गांड मारनी है। तो भाभी ने कहा कि धीरे करना अभी तक तेरे भैया ने कभी मेरी गांड नहीं मारी है। तो मैंने कहा कि ठीक है भाभी और उनकी गांड पर अपना लंड रखा और एक झटका मारा तो मेरा लंड उनकी गांड के अंदर नहीं गया। फिर मैंने अपने लंड पर थोड़ा सा थूक लगाया और ज़ोर से एक झटका मारा, तो मेरा लंड थोड़ा सा अंदर घुस गया।

अब भाभी चिल्ला रही थी कि बाहर निकाल मार डालेगा क्या? लेकिन मैंने उनकी एक नहीं सुनी और फिर से एक बार और ज़ोर का झटका मारा, तो मेरा आधा लंड उनकी गांड के अंदर चला गया। फिर में धीरे-धीरे भाभी की गांड मारने लगा और कुछ देर में ही मेरा पूरा लंड भाभी की गांड में अंदर जाने लगा। अब तो भाभी भी अपनी गांड हिलाते-हिलाते गांड मरवा रही थी और उनको भी मज़ा आ रहा था। अब 10 मिनट तक उनकी गांड मारने के बाद में फिर से झड़ने वाला था तो मैंने भाभी की गांड से अपना लंड बाहर निकाला और उनके बूब्स और बदन पर सारा माल निकाल दिया और उनके बाजू में ही लेट गया। फिर कुछ देर तक हम दोनों ऐसे ही लेटे रहे और फिर साथ में नहाने चले गये और फिर मैंने भाभी को बाथटब में फिर से चोदा। अब जब तक विमल भैया नहीं आए तब तक हम हर रोज सेक्स करते रहे और अब जब भी वो बाहर जाते है, तो भी हम सेक्स करते है।


Spread the love

44 thoughts on “मस्त देसी भाभी के साथ मस्त सेक्स”

  1. Ahaa, its pleasant conversation about this post here at this weblog, I have
    read all that, so at this time me also commenting at this place.
    I have been browsing online more than 3 hours today, yet I never found any interesting article
    like yours. It’s pretty worth enough for me. In my opinion,
    if all site owners and bloggers made good content as you did, the net will be a lot more useful than ever before.
    I’ll immediately clutch your rss as I can not find your email
    subscription link or newsletter service. Do you’ve any?
    Kindly allow me understand in order that
    I could subscribe. Thanks. http://nestle.com/

  2. Having read this I believed it was really informative.
    I appreciate you finding the time and effort
    to put this article together. I once again find myself spending way too much time both reading
    and commenting. But so what, it was still worthwhile!

  3. Hiya very nice site!! Man .. Excellent .. Wonderful ..
    I’ll bookmark your blog and take the feeds also?
    I am satisfied to find a lot of helpful info here in the put up, we’d like develop more strategies on this regard, thanks for sharing.
    . . . . .

  4. Firstly you need the keywords. You need keywords on your page that are relevant to that within the
    search term. The important thing about this
    is incredibly that when your visitors get to your page,
    they stay there! Next most important is that you’re walking ranked higher because of it.

    Google LOVES pages that are applicable to the search terms.
    Could usually applies more to sponsored links, it also uses this method to position pages
    higher on their free results.

    The considerable link develop is a one-way hyper link.
    Google loves options available . of backlink because
    it believes this shows your popularity. A one-way link looks
    as if it gets nothing in return, therefore just linking due
    to the quality of the website and making web-site look
    good to yahoo. Well, the catch is that, getting a one-way link is
    very difficult. Many websites WILL want something in return,
    be it money, another link off of a different website, or other services.
    Efficient way establish this involving link through using find free directories or websites
    that enable submissions or postings of links. Many link building services post
    comments or forum posts with a website link back into the website, creating one-way
    references.

    Some search engine optimization marketers will tell you various other sure you utilize a keyword rich domain, but ways
    to my experience that specified local niche . isn’t that important.
    A keyword rich file name will do about exactly thing.

    Tracking is the part of blog marketing you choose to record.
    It is important to know where your readers are coming right from.
    You want to be able to inform what keywords they searched on to discover your blog, and where
    they did their looking. In this way, you will have the ability to
    see which keywords might keep using, and the ones you should throw away.

    Don’t lose interest in the guys starting out when your green bar starts to improve.
    If they have a website with good quality content, a person should
    consider linking with them. Remember we all need start off somewhere
    and today’s page ranking of 1 is tomorrow’s page rank 5.

    Strive to link with relevant websites because Google likes this,
    and should receive quality traffic obtainable websites for some time.

    Acting as being a guest blogger allows writer to create relevant backlinks to their own blogs.
    If these sites are popular and have a good page rank,
    or PR, then may lead into a major traffic increase. What many people don’t
    know about guest blogging is that barefoot
    running can provide for on average just sending traffic several website.

    You can used as the side business as well.

    There a number of sites on the Internet that actively pay guest bloggers to post their content on their sites.
    These internet websites are typically part of a typical niche that is competitive.
    Worn-out to keep new and unique content flowing on an every day basis is a key take into consideration remaining both relevant and profitable.
    Guest blogging offers this content flow to stay fresh and different due into the varying writing styles and
    consider points of the authors.

    Once you get the Google toolbar and also seeing the PRs of other sites,
    you tend to be able observe the sites that get good PR and
    be given the chance to model your site after those.
    I can’t stress enough developing your own list of getting
    the Google toolbar. https://scr888slot.online/index.php/download/36-joker123

  5. Amazing! This blog looks just like my old one! It’s on a totally different topic but it has pretty
    much the same page layout and design. Wonderful choice of colors!
    It is the best time to make a few plans for the long run and it’s time to be happy.
    I’ve read this publish and if I may just I wish to suggest you few fascinating
    things or tips. Maybe you can write subsequent articles referring to
    this article. I desire to learn even more things
    approximately it! This is a topic that is near to my
    heart… Many thanks! Exactly where are your contact details though?
    http://starbucks.com

  6. Hey would you mind stating which blog platform you’re using?

    I’m going to start my own blog in the near future but I’m having a tough
    time choosing between BlogEngine/Wordpress/B2evolution and Drupal.
    The reason I ask is because your layout seems different then most blogs and I’m
    looking for something unique. P.S Sorry for getting off-topic but
    I had to ask! https://www.silicon-wristband.com/category/custom-debossed-silicone-rubber-bracelets

  7. Hi! I’ve been following your weblog for some time now and finally got the bravery to go ahead and give you a
    shout out from Dallas Tx! Just wanted to tell you keep up the
    excellent job! I could not resist commenting.
    Exceptionally well written! It is appropriate
    time to make some plans for the future and it’s time to be happy.
    I’ve read this post and if I could I desire to suggest you few interesting things or tips.

    Maybe you can write next articles referring
    to this article. I wish to read even more things about it!
    http://samsung.com

  8. Hi there, just became alert to your blog through Google, and found that it is really informative.
    I’m gonna watch out for brussels. I’ll be grateful if you continue this in future.
    Many people will be benefited from your writing. Cheers!

  9. An impressive share! I’ve just forwarded this onto a co-worker who was conducting a little research on this.
    And he actually ordered me breakfast due to the fact that
    I found it for him… lol. So allow me to reword this….
    Thank YOU for the meal!! But yeah, thanx for spending the time to discuss this topic
    here on your internet site.

  10. Thanks for your personal marvelous posting! I quite enjoyed reading it,
    you might be a great author. I will always bookmark your
    blog and definitely will come back sometime
    soon. I want to encourage you to ultimately continue your
    great writing, have a nice weekend!

  11. Wow that was odd. I just wrote an very long comment but after I clicked
    submit my comment didn’t appear. Grrrr… well I’m not writing all that over again. Anyway, just wanted to say great blog!

  12. I was curious if you ever considered changing the structure of your site?
    Its very well written; I love what youve got to say.

    But maybe you could a little more in the way of content so people could connect with it better.
    Youve got an awful lot of text for only having one
    or two pictures. Maybe you could space it out better?

  13. Hello just wanted to give you a quick heads up. The words in your article seem to be running
    off the screen in Firefox. I’m not sure if this is a format issue or something to do with browser compatibility but I thought I’d post
    to let you know. The design and style look great though! Hope you get the
    problem fixed soon. Many thanks

  14. Just wish to say your article is as amazing.

    The clarity on your post is just great and that i could suppose you are an expert in this subject.

    Well together with your permission let me to seize your feed to stay updated with approaching post.

    Thank you one million and please carry on the gratifying work.

  15. Just desire to say your article is as amazing. The clarity in your post is simply spectacular
    and i can assume you are an expert on this subject.
    Well with your permission let me to grab your feed to keep updated with forthcoming post.

    Thanks a million and please continue the enjoyable work.

  16. Have you ever thought about adding a little bit more than just your
    articles? I mean, what you say is valuable and all.
    Nevertheless think about if you added some great pictures or video clips to
    give your posts more, “pop”! Your content is excellent
    but with pics and clips, this site could certainly be one of the greatest in its niche.

    Amazing blog!

  17. Excellent post. I was checking continuously this weblog and I’m impressed!

    Extremely useful information specially the remaining section 🙂
    I deal with such info much. I was looking for this particular information for a very long time.
    Thanks and good luck.

  18. Thanks for another wonderful article. Where else could anyone get that kind of information in such a
    perfect way of writing? I have a presentation subsequent week, and I am on the look for
    such information.

  19. Have you ever thought about publishing an ebook or guest authoring on other blogs?

    I have a blog based on the same topics you discuss and
    would love to have you share some stories/information. I know my visitors would appreciate
    your work. If you are even remotely interested, feel free to send me an e mail.

  20. Hey! This post couldn’t be written any better! Reading this post reminds me of my good old room mate!
    He always kept chatting about this. I will forward this write-up to him.
    Fairly certain he will have a good read. Thanks for sharing!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *