बहुत दर्द हो रहा है-1

Spread the love

[ A+ ] /[ A- ]

Font Size » Large | Small


hindi sex story: मेंरा नाम मोना है में पंजाब की रहने वाली हूँ मेंरा साइज़ है 34-28-34 है ब्लेक लम्बे बाल और कलर फेयर है और बहुत सुन्दर हूँ सिटी के सारे लड़के मेंरे पीछे पागल है एक दिन की बात है की मेंरी सहेली ऋतु का मुझको फोन आया हम काफ़ी देर तक बाते करते रहे उसकी अभी अभी शादी हुई थी उसने मुझको कहा की वो और उसका पति हर रोज़ सेक्स करते है बहुत मज़ा आता है उसने कहा की अब तो में एक दिन भी सेक्स के बिना नही रह सकती बातो बातो में मेंरे अरमान भी जाग गये उसने मुझको कहा की क्या तुम ने कभी सेक्स इन्जॉय नही किया मैने कहा की नही. ऋतु बोली मन तो करता होगा. मैंने कहा हाँ पर में अपनी चूत अपने पति को ही दूंगी उसके लिये संभाल कर रखी हुई है उसने कहा तेरा कुछ नही हो सकता तू पुराने ख्यालो वाली लड़की हो.

मैने कहा कुछ भी हो में करूगी तो अपने पति के साथ ही नही तो नही उसने कहा एक काम कर मेंरे साथ लेयास्बिन कर ले तेरे को थोड़ी रिलीफ मिल जायेगी मैने उसको कहा की में सोच कर बता दूंगी में सारा दिन सोचती रही आखिर मैने हाँ कर दी ओर उसको फोन कर दिया मैंने कहा तेरा पति कुछ नही कहेगा उसने कहा की हम उनको पता ही नही चलने देगे मैंने कहा वो कैसे उसने कहा की कल सुबह तुम मेंरे पास आ जाना मेरा पति सुबह ऑफीस चला जाता है शाम को घर आता है उस वक्त तक हम बहुत बार अपना काम कर लेगे मैने कहा ओके अगले दिन में तैयार हो कर उसके घर को चल पड़ी थोड़ी दूर ही था उसका घर घर का डोर खुला ही था मैने मेरी स्कूटी घर के अंदर ही खड़ी कर दी गाड़ी की आवाज़ सुन कर ऋतु बाहर आ गई.

उसने रेड कलर का नाइट गाउन पहना हुआ था बहुत सेक्सी लग रही थी मुझे वो गले मिली हम दोनो बहुत खुश थी उसकी शादी के बाद हम पहली बार मिल रही थी हम अंदर चले गये उस का घर बहुत अच्छा था इंटर्नल डेकोरेशन वाज़ वेरी गुड हर तरफ़ लकड़ी का वर्क था लगता था उसका पति काफ़ी अमीर था मैंने कहा की तुम्हारा पति करता क्या है तो उसने कहा की हमारा इम्पोर्ट एक्सपोर्ट का बिज़नस है फिर हम दोनो ने चाय पी तो उसने कहा की शुरू करे जिस काम के लिये तुम यहा आई हो मैंने कहा यस वाइ नोट.

मैने कहा ठीक है तुम अपने कपड़े खोल दो और मैंने गेट बंद किया ओर बेडरूम में पहुँच गयी मैंने ग्रीन कलर का टॉप ओर डेनिम पहन रखी थी उसने मुझको बाहों में लिया ओर मेरे लीप पर किस करने लगी पहले तो मुझको थोडा अजीब सा लगा पर फिर मुझको मज़ा आने लगा में भी उसका साथ देने लगी 10 मिनिट तक हम एक दूसरे को लिप्स किस करती रही 10 मिनिट के बाद हमने एक दूसरे को छोड़ा ऋतु कहने लगी ऐसे मज़ा नही आता बिल्कुल नंगी होते है मैंने कहा ठीक है वो कहने लगी पहले में नंगी होती हूँ फिर तुम होना ओर एक झटके में उसने अपनी नाइट गाउन को अपने बदन से अलग कर दिया उसने नीचे कुछ नही पहन रखा था मैंने कहा यह क्या है वो कहने लगी में तो ऐसे ही रहती हूँ उसका साइज़ 36 था निपल ब्राउन थे उसके बूब्स शेप में थे.

अब मेंरी बारी थी मैंने अपना टॉप निकाला फिर डेनिम निकाली अब में सिर्फ़ ब्रा पेंटी में थी मैने ब्लेक कलर का अंडरगार्मेंट्स पहन रखा था में अपनी ब्रा के हुक खोलने लगी तो वो बोली ऐसे नही में खोलती हूँ अपने आप तो हम सभी लड़कियां रोज़ खोलती है लेकिन दूसरे के हाथो से खुलवाने का अपना ही मज़ा है मैने कहा ठीक है तो वो मेरी ब्रा खोलने लगी जब उसकी उंगलियों ने मेरी पीठ को टच किया तो मेरे बदन के अंदर सिहरन होने लगी ओर उसका निपल मेरे बदन को टच कर रहा था में काफ़ी एग्ज़ाइटेड हो गई थी फिर उसने मेंरी पेंटी उतार दी ओर मेरी चूत पर हाथ रख दिया में तो मानो जन्नत में पहुँच गई फिर उसने मुझको सीधा किया ओर मेरे लिप्स पर अपने लिप रख दिये उसका मुँह ओर मेंरा मुँह आपस में टच हो रहे थे उसके निपल मेंरे निपल को टच कर रहे थे में तो मानो सातवे आसमान पर थी.

फिर उसने मेंरे लिप्स छोड़े ओर मेंरी गर्दन पर किस करने लगी फिर उसने मेरे राइट बूब्स को अपने हाथ में पकड़ लिया ओर लेफ्ट बूब्स को सक करना शुरू कर दिया मेरी चूत में तो बस पानी पानी हो रहा थी फिर उसने मेरी चूत चाटनी शुरू की कभी वो मेरी चूत के लिप्स को किस करती तो कभी चाट लेती काफ़ी देर तक वो ऐसा ही करती रही मुझे महसूस हुआ की मुझे काफ़ी मज़ा आ रहा है में सिकुड़ने लगी ओर मेंरी चूत ने मेरा पानी छोड़ दिया ऐसा मेरे साथ जिंदगी में पहली बार हुआ था मेरा काम हो चुका था ओर में जन्नत में पहुँच गई थी फिर ऋतु ने मुझको सहारा दे कर उठाया ओर कहा की जेसा मैने उसके साथ किया है वेसा में भी उसके साथ करू तो में भी शुरू हो गई सब कुछ ठीक था पर मुझे चूत चाटने में थोड़ी परेशानी हो रही थी.

जब मैने उसकी चूत पर अपना लिप्स रखा तो वो आहा हह करने लगी उसकी चूत का टेस्ट नमकीन था में भी कभी उसकी चूत के लिप्स को किस करती कभी कभी चाट लेती आखिर थोड़ी देर में उसने पानी छोड़ दिया मैंने उसका सारा पानी पी लिया फिर हम दोनो ने लिप किस किया ओर रिलेक्स हो गये फिर उसने मुझे कहा की कैसा लगा मज़ा आया मैने कहा हाँ बहुत मजा आया उसने कहा लड़की के साथ इतना मज़ा आया तो लड़के के साथ कितना आता होगा मैने कहा मेरे से ज्यादा तुम को पता है तो वो बोली क्या तू लड़के के साथ मज़ा करना चाहती हो तो मैने कहा करना तो चाहती हूँ पर मेरे मन की तमन्ना है की में अपनी चूत में पहला ओर आखरी लंड अपने पति का ही डलवाऊँ तो वो कहने लगी मैंने कब कहा की तू किसी और का डलवा शादी करके डलवा ले मैने कहा की लड़का भी अच्छा होना चाहिये ऋतु बोली लड़का तो है अच्छा भी है मैने कहा कोंन है ऋतु बोली मेरा देवर है बहुत सुन्दर है ओर तुझे पसंद भी करता है.


Spread the love

9 thoughts on “बहुत दर्द हो रहा है-1”

  1. I know this if off topic but I’m looking into starting
    my own blog and was wondering what all is needed to get set up?
    I’m assuming having a blog like yours would cost a pretty penny?

    I’m not very web smart so I’m not 100% certain. Any recommendations or advice would be
    greatly appreciated. Appreciate it

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *